रैना भाभी की जवानी


Click to Download this video!

bhabhi sex stories, hindi sex story हेलो दोस्तों, कैसे हैं आप लोग ? दोस्तों आज मैं एक सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ जिसमे मैं बताऊंगा की कैसे मैंने पड़ोस में रहने वाली रैना भाभी की चुदाई की।  मेरा नाम विमल है और मैं लखनऊ में रहता हूँ एक किराये के मकान में।  मेरी उम्र २२ साल है और दिखने में अच्छा हूँ।  मैं जॉब करता हूँ और कुल मिलाकर मेरी ज़िन्दगी अच्छी चल रही है।

अभी कुछ दिनों पहले की बात है, मेरे सामने वाले फ्लैट में एक पति पत्नी किराये पर रहने।   पति अक्सर दिन में बाहर होता है और उनकी पत्नी घर पर अकेले।  मेरी नाईट शिफ्ट होती है इसीलिए मैं दिन भर कमरे पर होता हूँ।  एक दिन मुझे सुबह सुबह उनके घर में झगडे की आवाज आयी और रोने की भी।  मैं समझ गया की शायद  मार पीट भी हुई होगी।  उस टाइम तो मैं कुछ नहीं बोलै लेकिन जब पति चला गया तो मैं दरवाजे पर गया और मैंने कुण्डी बजायी।  पत्नी ने दरवाजा खोला।  मुझे कुछ सुझा नहीं इसीलिए मैंने चीनी मांगने का बहाना किया।  वो बोलीं – आओ अंदर आ जाओ, मैं किचन से ला रही हूँ।  उनके चेहरे से ही लग रहा था की वो अभी रो कर उठी हैं।  मैंने सोचा की कैसे बात करूँ तब तक वो आ गयीं चीनी लेकर। मैं बोलै – भाभी, बुरा न मानो तो एक बात पूछूँ ? –  हाँ, पूछो।  मैं बोलै – वो सुबह आपके घर से आवाज़ आ रही थी।  आप मुझे पराया नहीं समझो, मुझे बता सकती हो।  वो बहाना बनाते हुई बोलीं -अरे सब ठीक है।  मैं बोला – आपके सूखे हुए आँसूं  सब बता रहे हैं।  अब वो फफक पड़ी और बताने लगीं की उनका पति उन्स झगड़ा करता है और आज मारा भी।  मुझे उनके पति पर गुस्सा आया लेकिन मैं अभी कुछ कर नहीं सकता था।  मैंने भाभी को समझते हुए कहा-  आप टेंशन न लो, चाहो तो शिकायत भी कर सकती हो पुलिस में।  वो बोलीं – शिकायत तो नहीं करनी मुझे, मुझे बस प्यार चाहिए।  क्या मैं इतना भी नहीं मांग सकती ? मैं बोला – अरे भाभी जरूर। ये कह कर मैंने उन्हें गले से लगा लिया।  वो झिझक रहीं। मैं बोला – अरे भाभी, प्यार आप जितना बोलोगी, मैं दूंगा।  बस आप रोया न करो।  अब वो चुप हो गयीं।

अब मैंने भाभी को  किस करना शुरू दिया। वो आराम से बैठी हुई थी और मैं बस उसके होंठ चूसे जा रहा था।  थोड़ी देर बाद भाभी को भी जोश आ गया। उसने मुझे बहुत जोर से पकड़ लिया और जमके किस करना शुरू कर दिया। अब मैं भी किस करने में उसकी बराबरी करने लगा।  फिर मैंने उसके ब्लाउज के अन्दर हाँथ दाल दिया और उसके दूध दबाने लगा और किस करने में तो मैं लगा ही हुआ था। फिर मैंने उसका ब्लाउज  ऊपर किया और उसके दूध चूसने लगा और वो उम्म्मम्म उम्मम्मम्म उम्मम्मम्म म्मम्मम्मम उम्म्मम्म ऊफ्फ्फ्फ़ उफफ्फ्फ्फ़ म्मम्मम्म उम्म्मम्म करने लगी।  वाह क्या गोरे गोरे दूध थे बिलकुल मलाई जैसे और चूसने में जो मज़ा आ रहा था आहा क्या बताऊँ।  फिर मैंने अपनी पैन्ट से अपना लंड बाहर किया और उसने जैसे ही मेरा लंड देखा तो होंठ दबाते हुए छूने लगी।

अब भाभी घुटनों पर बैठ गई और मेरा लंड पकड़कर हिलाते हुए चाटने लगी।  फिर उसने मेरा लंड मुंह में डाला और चूसने लगी।   अब मुझे मजा आने लगा।  मैंने उसका मुंह पकड़ा और चोदने लगा।  मेरा माल तो उसके मुंह में झड़ गया।  उसने माल थूका और कहा बता नहीं सकते थे तो मैंने कहा अच्छा लगता है। फिर मैंने उसकी कुर्सी पर बैठाया और भाभी की साडी उतार कर पैंटी के ऊपर से जीभ फिराने लगा।  फिर मैंने उसकी पैंटी किनारे की और उसकी चूत चाटने लगा और वो अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह ह्ह्हह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्ह्हह्ह उफफ्फ्फ्फ़ आआआ आआआ आह्ह्ह्हह्ह करते हुए अपने दूध दबाने लगी | फिर मैं उसकी चूत चाटते हुए उसके दूध दबाता रहा और वो अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्ह्हह्ह करते हुए सिसकियाँ लेती रही। अब मेरा खड़ा हो चुका था और मैं चुदाई के लिए तैयार था तो मैं उठा और उसकी पैंटी को किनारे पकड़ के लंड उसकी चूत में दाल दिया।

मैंने जैसे ही मैं लंड उसकी चूत में घुसाया उसने मुझे जोर से पकड़ लिया और अपनी तरफ खींचने लगी लेकिन मैं झटके मारने में लगा हुआ था और वो अह्ह्ह ह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह ह्ह अह्ह्ह ह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह ह्ह्ह ह्ह्ह्ह  ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह  उह्ह्ह ह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह ह्ह उफफ्फ्फ्फ़  आआआ आआआ आह्ह्ह्हह्ह आ ह्ह्ह्ह  ह्ह्ह्ह ह्ह आआआ ह ह्ह्ह्ह कर रही थी।  फिर मैं थोडा सा रुका तो वो कहने लगी बस हो गया | तो मैंने एक जोर का झटका मारा और जोर जोर से उसे चोदने लगा और वो चिल्लाते हुए अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह्ह ह्ह्हह्ह्ह्ह ह्ह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्हह्ह्ह्ह उह्ह्ह्हह्ह उफफ्फ्फ्फ़ आआआ आआआ आह्ह्ह्हह्ह आआआ करती रही।

थोड़ी देर में रैना भाभी झड़ गयी।  मैं भी अब झड़ने वाला था क्यूंकि भाभी की छूट गरम थी।मैंने लंड बाहर किया और उसके मुंह पर पिचकारी मार दी।  फिर मैंने अपने कपडे पहने और उनको हग किया और अपने कमरे में चला गया।

रैना भाभी को मैं आज भी छोड़ता हूँ और वो भी मुझसे अपनी छूट की प्यास बुझवा कर खुश हैं।

कृपया कहानी शेयर करें :