मौसी के दोनो लडको ने अपनी गर्लफ्रेंड की चूत दिलवाई


Click to Download this video!

hindi sex stories, antarvasna

मेरा नाम संकेत है मैं आगरा का रहने वाला हूं, मैं कॉलेज की पढ़ाई कर रहा हूं और यह मेरे कॉलेज का दूसरा वर्ष है। मेरी जब भी छुट्टी पड़ती है तो मैं अपनी मौसी के घर लखनऊ चला जाता हूं, इस बार भी मेरे कॉलेज की छुट्टियां पड़ी तो मैं अपनी मौसी के घर चला गया, मेरी मौसी के दो लड़के हैं, वह भी मेरी ही उम्र के हैं और वह दोनों बड़े शरारती हैं। एक का नाम राहुल है और दूसरे का नाम गगन है, वह दोनों इतनी ज्यादा शरारत करते हैं कि उनके मोहल्ले के सारे लोग उनसे बहुत ही परेशान हैं उसके बावजूद भी वह उन्हें कुछ नहीं कहते क्योंकि मेरे मौसा जी का उनके मोहल्ले में बड़ा ही डांका का है और वह बड़े ही दबंग किस्म के व्यक्ति हैं। मैं जब उनके घर गया तो राहुल और गगन मुझसे मिलकर बहुत खुश हुए वह कहने लगे हम तुम्हारा इंतजार कर रहे थे, तुम आए तो हमें बहुत खुशी हो रही है।

मेरी मौसी भी मेरे साथ बैठ गई और वह मेरी मम्मी के बारे में पूछने लगी, वह पूछने लगी कि तुम्हारी मम्मी की तबीयत अब कैसी है, मैंने उन्हें कहा कि अब पहले से तो ठीक हैं क्योंकि मेरी मम्मी के पैर में बहुत दर्द रहता है और वह हमेशा अपनी पैर की शिकायत से बहुत परेशान रहती हैं इसी वजह से वह ज्यादा कहीं भी नहीं जा पाती। मैं जितनी देर उनके साथ बैठा था तो उतनी देर तक हम लोग बड़े ही शांति से बात कर रहे थे लेकिन जैसे ही मैं राहुल और गगन के रूम में गया तो उन दोनों ने शोर शराबा करना शुरू कर दिया और वह दोनों बडी ही मस्तियां करने लगे। मैंने उन्हें कहा मौसी को डिस्टर्ब हो जाएगा, वह कहने लगे कोई बात नहीं हमें तो यह सब करना बहुत अच्छा लगता है। जब वह मेरे साथ बैठे तो वह दोनों अपनी गर्लफ्रेंड की फोटो मुझे दिखाने लगे, मैंने उनसे कहा कि पिछले साल जब मैं आया था तब तो तुमने मुझे किसी और की ही फोटो दिखाई थी और इस वर्ष तुम किसी और की फोटो दिखा रहे हो, वह दोनों कहने लगे अब उन दोनों के साथ हमारा ब्रेकअप हो चुका है, हमने अब नई गर्लफ्रेंड बना ली हैं। मैंने राहुल से कहा तुम दोनों भाइयों का तो जवाब ही नहीं है, तुम दोनों पता नहीं कब क्या करते हो कुछ भी नहीं पता चलता।

वह दोनों मुझे कहने लगे कल हम लोग तुम्हें वॉटर पार्क लेकर चलेंगे, वहां पर हम लोग जमकर मस्ती करेंगे। मैं उन्हें कहा पहले तुम इस बारे में मौसी से तो पूछ लो, वह कहने लगे तुम उसकी चिंता मत करो हम लोग कल चलते हैं और अपनी गर्लफ्रेंड को भी वहीं पर बुला लेंगे, मैंने उन्हें कहा ठीक है मैं तुम्हारे शहर में आया हूं अब तुम ही मुझे घुमाओगे। अगले दिन हम तीनो लोग घूमने चले गए, उन दोनों ने अपनी गर्लफ्रेंड को रिसीव किया, राहुल ने मुझे कहा तुम गाड़ी चलाओ उसने मुझे चाबी दे दी और वह दोनों अपनी गर्लफ्रेंड्स के साथ बातें करने लगे। जब हम लोग वॉटर पार्क पहुंचे तो मैंने उन्हें कहा तुम तो बड़े मजे कर रहे हो और मैं अकेला झंडू बनकर बैठा हूं, वह लोग कहने लगे तुम चिंता मत करो पहले तुम वॉटर पार्क में पानी का मजा लो उसके देखो। मैं अब उनके साथ ही बैठ गया और मैं काफी देर तक उनके साथ ही बैठा हुआ था, वह दोनों अपनी गर्लफ्रेंड के साथ पूरी मस्ती कर रहे थे और मैं अकेला उन्हें देख रहा था। जब हम लोगों का पूरा एंजॉयमेंट हो गया तो हम लोग वहां से बाहर आ गए, हम दोनों ने वाइन शॉप से बियर की बोतले ली और वह सब लोग बीयर पीने लगे, मैंने भी उनके साथ में बीयर पी ली, मुझे भी अब नशा हो गया था और आगे हम लोगों ने और भी बियर रखली। मुझे इतना नशा हो गया कि मैं गाड़ी भी नही चला पा रहा था। मैंने गगन से कहा अब तुम खुद से गाड़ी चलाओ मैं गाड़ी नहीं चला पाऊंगा, वह कहने लगा ठीक है मैं गाड़ी चलाता हूं। गगन कार ड्राइव कर रहा था और मैं उसके बगल में बैठ गया, कुछ देर बाद उसने कार आगे एक ढाबे पर रोक लिया और वह कहने लगा यहां पर बहुत ही टेस्टी खाना बनता है, हम लोग वहां पर खाना खाने के लिए रुक गए। वहां का खाना वाकई में बड़ा ही टेस्टी था उसके बाद गगन और राहुल और भी बियर ले आए, मैं उन्हें कहने लगा अब कितनी बियर पियोगे बहुत हो चुका है लेकिन वह लोग बिलकुल भी रुकने को तैयार नहीं थे, वह नॉनस्टॉप शराब पी रहे थे और उनकी गर्लफ्रेंड भी बड़ी ही नशेड़ी किस्म की थी, वह लोग उन्हें और भी उकसा रहे थे और कहने लगी अभी तो हमारा कुछ भी नहीं हुआ है।

मैं उन्हें कहने लगा तुम लोग कुछ ज्यादा ही पीते हो इतना भी अच्छा नहीं है, जब हम लोग उस ढाबे से खाना खाकर उठे तो गगन ही कार ड्राइव कर रहा था, मैं उसके बाद पीछे जाकर बैठ गया क्योंकि गाड़ी बड़ी थी इसलिए जगह की कोई भी दिक्कत नहीं थी। मुझे नींद जैसी आ रही थी लेकिन मैं जागने की कोशिश कर रहा था, बीच-बीच में मेरी आंखें झपकने लगी। गगन ने मुझे कहा तुम सो क्यों रहे हो उसने मुझे उठाया। मैंने उसे कहा कि मैं सोऊ नहीं तो और क्या करूं? राहुल कहने लगा तुम्हें सोने की क्या जरूरत है। मैंने उसे कहा तुम तो अपनी गर्लफ्रेंडो के साथ मजे मार रहे हो और मैं अकेला ही अपना लंड पकड़ कर बैठा हूं ।जब मैंने उसे यह बात कही तो वह कहने लगा आज तुमने हमारा दिल दुखाने वाली बात कर दी, उन दोनों ने अपनी गर्लफ्रेंड को कहा आज तुम संकेत को सेक्स का सुख दे दो। वह दोनों भी मेरे साथ सेक्स करने के लिए राजी हो गई, मेरे दोनों हाथों में लड्डू थे लेकिन समस्या यह थी कि मैं उन्हें कहां लेकर जाऊं। मैंने राहुल से कहा मैंने इन दोनो को कहा लेकर जाऊं वह कहने लगा तुम पीछे वाली सीट में इन दोनों को बारी बारी से चोदो गाड़ी का साइज बहुत बड़ा है तुम टेंशन मत लो। पहले गगन की गर्लफ्रेंड पीछे आ गई उसने जब अपनी जींस को उतारा तो उसने पिंक कलर की पैंटी पहनी हुई थी। मैंने भी अपना लंड उसकी चूत के अंदर डाल दिया।

जब मैं उसे चोदता तो वह पूरे मजे ले रही थी, मेरा पूरा साथ दे रही थी। उसने मुझे कसकर पकड़ा हुआ था जिस प्रकार से मैंने उसे चोदा वह बड़ी खुश हो गई। मैंने गगन कहा तुम्हारी गर्लफ्रेंड तो एक नंबर की माल है लेकिन जब राहुल की गर्लफ्रेंड आई तो वह एक नंबर का पटाखा है। उसने जब अपनी चूत मुझे दिखाई तो उसकी चूत इतनी ज्यादा चिकनी थी कि मैंने उसे अपने मुंह से चाटा, काफी देर तक मैं उसकी चूत को चाटे जा रहा था। जब उसकी चूत ने पानी छोड़ा तो मैंने कुछ देर उससे अपना लंड को चूसवाया जिससे कि वह मुझे कहने लगी तुम्हारा लंड भी कम मोटा नहीं है। मैंने जब उसकी चूत के अंदर अपने कड़क लंड को डाला तो वह चिल्लाने लगी, वह राहुल को कहने लगी तुम्हारा भाई तो बड़ा ही दमदार है और उसका लंड भी तुमसे मोटा है। राहुल कहने लगा अच्छा आज संकेत का लंड मुझसे ज्यादा मोटा हो गया तुम भी जबान की पक्की नहीं हो ना जाने तुमने कितने लंड अपनी चूत में लिए होंगे। उसकी गर्लफ्रेंड कहने लगी उसकी तो गिनती ही नहीं है लेकिन संकेत का लंड वाकई में बड़ा मजेदार है मुझे उसे अपनी चूत में लेकर बहुत मजा आ रहा है मुझे भी अपने आप पर गर्व महसूस हो रहा था। उसकी गर्लफ्रेंड मुझसे अपनी चूत मरवाकर खुश थी। मैंने उसे कुछ देर तक चोदा लेकिन जब मेरा वीर्य पतन हुआ तो उसके बाद हम दोनों सीट पर बैठे रहे, उसकी चूत से मेरा वीर्य बाहर टपक रहा था। मैंने उसे डॉगी स्टाइल में बनाते हुए चोदना शुरू किया और बड़ी तेजी से मैंने उसकी चूत मारी जब मैं उसे चोद रहा था तो वह मुझे कहने लगी तुम्हारी तो बात ही कुछ और है। वह अपनी बड़ी चूतडो को मुझसे मिलाने पर लगी हुई थी जिस प्रकार से वह अपनी चूतड़ों को मुझसे मिलाती मैं ज्यादा समय तक उसे चोद नहीं पाया। जैसे ही मेरा वीर्य दोबारा गिरने वाला था तो मैंने उसे कहा तुम इसे अपने मुंह के अंदर ले लो। उसने भी तुरंत अपने मुंह को मेरे लंड पर लगाते हुए उसे चूसा कुछ ही सेकंड के बाद मेरा वीर्य पतन उसके मुंह के अंदर हो गया, उस दिन हम लोगों ने बहुत इंजॉय किया।